प्याज का प्रसंस्करण

प्याज को विभिन्न उत्पादों में प्रसंस्कृत किया जा सकता है, जैसे कि न्यूनतम प्रसंस्कृत प्याज, सीधे पकाने हेतु प्याज, प्याज का पेस्ट, निर्जलित प्याज कीचक्तियाँ, प्याज पाउडर, प्याज तेल, प्याज सिरका, प्याज की चटनी, प्याज का आचार, प्याज वाइन एवं पेय आदि इसके उपयोग और संभालने मेसुविधाकीवजहसेप्रसंस्कृतप्याजकीमांगदिन-ब-दिनबढ़तीजारहीहै। अनुमान के मुताबिक, प्याज उत्पादन का लगभग 6.75 प्रतिशत (कुल नुकसान, खपत, निर्यात एवं बीज हेतु कंद की आवश्यकता को छोड़कर) को प्रसंस्करण के लिए रखा जाता है|

(1) न्यूनतम प्रसंस्कृत प्याज : यह छिला और / या कटा हुआ प्याज, पकाने के लिए तैयार, जो कि ताजगी बनाए रहता है, इसे उपयुक्त पैकेजिंग सामग्रीमें पैक कर प्रशीतित स्थिति या फ्रोजन स्थिति में संग्रहीत किया जाता है।

(2) प्याज का पेस्ट : प्याज को पीसने के बाद भी ताजगी रखता है। न्यूनतम प्रसंस्कृत प्याज और प्याज का पेस्ट, इन उत्पादों में उचित मात्रा में परिरक्षकड़ालकर एवं अनुकूल पैकेजिंग सामुग्री में इन्हें रखकर इनका अधिक समय तक उपयोग में लेने हेतु अवधि बढाई जाती है। 

(3) निर्जलित प्याज : प्याज के निर्जलीकरण से थोक परिवहन कम हो जाता है तथा काफी कम नमी के कारण सूक्ष्मजीवों का विकास भी नही होता वअधिक समय तक उपयोग में लेने हेतु अवधि बढाई जाती है|निर्जलित प्याज की चक्तियाँ को पीसकर प्याज पाउडर में संसाधित किया जा सकताहै। प्याज की चक्तियाँ की तुलना में, प्याज का पाउडर बहुत आसानी से घुल जाता है तथा जल्दी से पुनर्गठित होता है। विविध प्रकार के खादयपदार्थों में प्याज के पाउडर से स्वाद बढ जाता है। निर्जलित प्याज एवं प्याज की चक्तियाँ को अधिक समय तक उपयोग हेतु उपयुक्त पैकेजिंगतकनीक का उपयोग सबसे महत्वपूर्ण होता है क्योंकि इसकि प्रवत्ति वातावरण से जल शोषण करने की होती है।

(4) अचार : यह प्याज को प्रसंस्कृत करके परिरक्षित करके, अचार बनाने की पुरानी प्रथा रही है प्याज के आचार में सिरका और तेल व्यापक रूप सेइस्तेमाल करते है। जबकि सिरका आधारित अचार अमेरिका एवं यूरोप में लोकप्रिय है, तेल आधारित अचार व्यापक रूप से एशिया एवं अफ्रीका मेंअपनाया गया है।

(5) तेल : यह और एक खादय पदार्थों को स्वादिष्ट बनानेवाला पदार्थ है जो व्यापक रूप से प्रसंस्कृत उत्पादों में इस्तेमाल किया जाता है। प्याज के तेलका कुछ खादय उत्पादों में एक प्राकृतिक खाद्य परिरक्षक के रूप में भी प्रयोग किया जाता है। प्याज का तेल अलग अलग तरीकों जैसे कि, आसवन, विलायक निष्कर्षण, उत्तम विशेष तरल निष्कर्षण आदि से निकाला जा सकता है।

(6) सिरका / पेय / सॉस : प्याज में शर्करा और अन्य पोषक तत्व प्रचुर मात्रा में होने की वजह से उनका प्रसंस्करण करके प्याज सिरका और प्याजवाइन को तैयार किया जा सकता है।

प्याज का प्रसंस्करण करके प्याज का पेय और सॉस (चटनी) बनाया जा सकता है।